tte staff : मारपीट के विरोध में बीकानेर में काली पट्टी बांधी

0
19

-जयपुर के टीटीई के साथ कोटा में मारपीट
-श्याम मारू-
(Bureau Chief)

बीकानेरं। जयपुर मण्डल के टिकट चैकिंग स्टाफ (tte staff) के साथ कोटा में हुई मारपीट के विरोध में बीकानेर के टीटीई ने गुरुवार को काली पट्टी बांध कर विरोध दर्ज करवाया। सभी टीटीई स्टाफ (tte staff) बीकानेर रेलवे स्टेशन के मण्डल मुख्य टिकट निरीक्षक कार्यालय में एकत्रित हुए और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने व टीटीई स्टाफ (tte staff) को सुरक्षा दिलाने की मांग की। टीटीई का कहना था कि रेलगाड़ियों में पर्याप्त रेल प्रोटक्शन फोर्स का दस्ता साथ चलना चाहिए।

tte staff : ट्रेन में काम करना मुश्किल

इण्डियन रेलवे (indian railway) टिकट चैकिंग स्टाफ आर्गेनाइजेशन की बीकानेर मण्डल शाखा के मण्डल मंत्री जगदेव सिंह रंधावा ने बताया कि ऐसी घटनाएं बढ़ती जा रही है। इन पर अंकुश नहीं लगाया गया तो टीटीई स्टाफ के लिए ट्रेन में काम करना मुश्किल हो जाएगा,प्रशासन को सख्त कदम उठाने चाहिए। इससे पहले बठिण्डा में भी टिकट चैकिंग स्टाफ के साथ मारपीट हो चुकी है। आर्गेनाइजेशन ने इन घटनाओं की निंदा करते हुए मण्डल रेल प्रबंधक संजय श्रीवास्तव को ज्ञापन भेजकर स्टाफ के लिए सुरक्षा के उपाय करने की मांग की है ताकि भविष्य में ऐसी घटनाओं की पुनरावृति नहीं हो और स्टाफ बेखौफ काम कर सके।

ये है मामला

दो दिन पहले जयपुर-मैसूर ट्रेन को लेकर जयपुर के टीटीई अजय वॉल्टर,मामराज मीणा, मुकेश मीणा, सुभाषचन्द, शुभम शर्मा कोटा पहुंचे थे। सवाईमाधोपुर से कोटा के बीच स्लीपर कोच में दो युवक सामान्य टिकट लेकर बैठे थे। टीटीई ने उन पर 670 रुपए का जुर्माना किया था। इसे लेकर टीटीई व युवकों के बीच कहासुनी भी हुई थी। कोटा पहुंचने के थोड़ी देर बाद जोधपुर-भोपाल ट्रेन भी आ गई। जयपुर मंडल के टीटीई लखनराज राजावत उसमें ड्यूटी करते आए थे। ये साइन ऑफ करके रेस्ट रूम की तरफ जा रहे थे तभी रेलवे इंस्टीट्यूट के सामने युवकों ने सरियों से हमला किया जिसमें टीटीई घायल हो गए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here