e-catering : एन्जाॅय बर्थ डे एण्ड मैरिज एनिवर्सरी इन रनिंग ट्रेन

0
28

-ई-केटरिंग (e-catering) से सफर होगा सुहावना
– अब चलती ट्रेनों में हो सकेगी हल्दी की रस्म
-श्याम मारू
बीकानेर। ट्रेन सरपट दौड़ी चली जा रही है और आप अपने केबिन में बच्चे का जन्म दिन मना रहे हों। कैसा लगेगा आपको, जब चलती ट्रेन में अपने परिवार के साथ हल्दी की रस्म निभा रहे हों या हाथकाम का आयोजन कर रहे हो। भारतीय रेलवे ने चलती ट्रेन में बर्थ डे पार्टी करने, शादी की वर्षगांठ मनाने या अन्य आयोजन करने की सुविधा प्रदान करने की व्यवस्था की है। यह सब सम्भव हो सकेगा, ई-केटरिंग (e-catering)  के माध्यम से। भारतीय रेलवे ने यात्रियों की सुविधा के लिए ई-केटरिंग (e-catering) की सुविधा पुनः बहाल करने का फैसला किया है। ई-केटरिंग के माध्यम से न सिर्फ भोजन मंगवाया जा सकेगा बल्कि भोजन परोसने के लिए वेटर की सुविधा भी मिलेगी। इतना ही नहीं जिस रूट से आपकी ट्रेन गुजर रही है, रास्ते में आने वाले शहरों की प्रमुख डिशें मंगवाने का भी आप आर्डर कर सकेंगे। भारतीय रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम नए वित्तीय वर्ष मार्च 2021 से चुनिंदा 400 से ज्यादा ट्रेनों में यह सुविधा कुछ संशोधनों के साथ शुरू कर रहा है। कोरोना महामारी के कारण रेलगाड़ियों के स्थगन से पहले चलती ट्रेनों में ई-केटरिंग (e-catering) की सुविधा दी जा रही थी, तब कुछ गिनी-चुनी चीजें ही उपलब्ध हो सकती थी लेकिन अब यात्रियों के लिए खाने पीने के बहुत से विकल्प मौजूद होंगे। आईआरसीटीसी ने अपनी खानपान की नीति में संशोधन करते हुए यात्रियों की मांग के अनुसार सभी तरह का खाना, फास्ट फूड और विभिन्न राज्यों का पारंपरिक खाना भी उपलब्ध कराने की तैयारी की है।

फुल एन्जाॅय इन ट्रेन

नई नीति के तहत अब रनिंग ट्रेन में सभी तरह के छोटे-मोटे आयोजन करने की सुविधा उपलब्ध होगी। इसमें बच्चों की बर्थ डे पार्टी हो सकेगी, मैरिज एनिवर्सरी और सगाई की रस्म तक की जा सकेंगी। आजकल लोग शादी-विवाह के लिए देश के एक कोने से दूसरे कोने तक जाते हैं। लम्बी दूरी होने के कारण सगाई, हल्दी की रस्म समेत अनेक छोटे आयोजन के समय परिजन ट्रेनों में यात्रा कर रहे होते हैं। सफर के कारण इन आयोजनों का वे एन्जाॅय नहीं कर पाते। अब वे पार्टी कर सकेंगे नई पॉलिसी के तहत। केक, बर्गर और पिज्जा से लेकर चाउमीन व नूडल्स तक यात्री आर्डर कर सकेंगे।

e-catering 03

अब मंगवाईये फेमस डिशेज

रनिंग ट्रेन जिन शहरों से गुजरेगी, यात्री उस शहर की प्रसिद्ध डिश भी मंगवा सकेंगे। हैदराबाद की बिरयानी, दिल्ली में हल्दीराम की मिठाइयां, बीकानेर में बीकाजी की नमकीन और जेसराज की मिठाई,,कानपुर में पंडित रेस्त्रां और ठग्गु के लड्डू, भोपाल में मनोहर डेयरी, इलाहाबाद में लोकनाथ, पटना में बंशी विहार, लखनऊ में मोती महल, आगरा में पंछी के पेठे, नागपुर में दिनशाॅ की आईसक्रीम समेत अनेक फेमस चीजें बुक करवाई जा सकती है। ई-केटरिंग के माध्यम से यह सब आपको अपनी बर्थ पर मिलेगा।

e-catering 01

भोजन परोसने की भी सुविधा

चलती ट्रेन में आप अपनी पार्टी का आनंद उठाते रहें। आपके रिश्तेदारों-मित्रों को भोजन परोसने की सुविधा भी इस नीति में शामिल की गई है। ट्रेन के वेंडर भोजन परोसने की जिम्मेदारी निभाएंगे ताकि आपके एन्जाॅय में कोई खलल न हो। भोजन सर्व करने के लिए वेटर की व्यवस्था भी की जा सकेगी, सिर्फ इसके लिए आपको भुगतान करना होगा।

करनी होगी पालना

इस दौरान कोविड-19 की गाइड लाइन की पालना करना अनिवार्य होगा। रेस्तरां के कर्मचारियों, डिलीवरी ब्वाॅय, वेंडर और यात्रियों को मास्क, फेस शील्ड, सैनेटाइजर समेत अन्य सभी सुरक्षात्मक उपाय करने अनिवार्य होंगे। रेलवे भी थर्मल स्कैनिंग करेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here