scr zone : दक्षिण मध्य रेलवे जोन में ट्रेन दौड़ेगी 130 किमी की स्पीड से

-एससीआर जोन (scr zone)  ने हासिल की उपलब्धि
-रेल संदेश डेस्क-
सिकंदराबाद। दक्षिण मध्य रेलवे (scr zone) ने स्वर्णिम चतुर्भुज-स्वर्ण विकर्ण रूट में 130 किमी प्रति घंटे की अधिकतम गति को बढ़ाकर उपलब्धि हासिल करके नए साल की शुरुआत की है। दख्क्षिण मध्य रेलवे (scr zone) के कुल 1,612 रूट किलोमीटर में से 1,280 किमी में यह उपलब्धि हासिल की है। एससीआर जोन (scr zone) के विजयवाड़ा – दुव्वाड़ा खंड को छोड़कर, शेष रूट में अब 130 किमीप्रतिघंटे की स्पीड पर रेल चलाई जा सकेगी। इस खण्ड में फिलहाल सिग्नल अप-ग्रेडेशन कार्य प्रगति पर है। दक्षिण मध्य रेलवे ने व्यवस्थित और नियोजित तरीेके से लाॅकडाउन के दौरान इन खंडों में अड़चनों को हटाकर ट्रैक और उसके बुनियादी ढांचे के सुदृढ़ीकरण का काम किया जिससे बढ़ी हुई गति सीमा को प्राप्त किया जा सकता है। इसमें 260 मीटर लंबी वेल्डेड रेल पटरिया बिछाने, और विभिन्न स्थानों पर घुमाव व चढ़ाई वाली पटरियों को सुधारा गया। कोविड महामारी के दौरान रेलगाड़ियों की कम आवाजाही के अवसर का लाभ उठाते हुए जोन ने सभी आवश्यक बुनियादी ढाँचा-उन्नयन कार्यों को पूरा किया। जोन द्वारा किए गए इन सुधारों के आधार पर, आरडीएसओ लखनऊ ने कन्फर्मेटरी ऑसिलोग्राफ कार रन (cocr) के माध्यम से विभिन्न परीक्षण किए, जिसमें पिछले साल जुलाई और अक्टूबर के दौरान 130 किमीप्रतिघंटे की गति हासिल करने के लिए सभी श्रेणी के कोच शामिल करके गाति मापी गई। इस जाँच के दौरान, ट्रैक मापदंडों के अलावा, सिग्नलिंग ट्रैक्शन वितरण उपकरण, लोकोमोटिव और कोच फिटनेस जैसे अन्य चीजों को भी जांचा गया। इसके बाद जोन के इस क्षेत्र के निम्नलिखित मार्गों के साथ अधिकतम गति सीमा 130 किमी प्रति घंटे तक बढ़ाने की मंजूरी मिली हैः–
1.गोल्डन विकर्ण (ग्रैंड ट्रंक) रूट- 744 रूट किमी
– बल्लारशाह से काजीपेट – 234 रूट किमी
– काजीपेट-विजयवाड़ा-गुडुर- 510 रूट किमी
2.गोल्डन चतुर्भुज मार्ग (चेन्नई -मुंबई खंड)- 536 रूट किमी
– रेनीगुंटा से गूटी – 281 रूट किमी
– गूटी से वाडी – 255 रूट किमी
सिकंदराबाद – काजीपेट खंड (132 किलोमीटर की दूरी) के बीच हाई-डेंसिटी नेटवर्क (एचडीएन) में अधिकतम गति सीमा 130 किमी प्रति घंटे पहले ही बढ़ाई जा चुकी है। इन खंडों में अप और डाउन दोनों लाइनों को मिलाकर, कुल 2,824 किलोमीटर (1412रूट किमी) को 130 किमी प्रति घंटे की गति से चलाने के लिए फिट घोषित किया गया है। जोन महाप्रबंधक गजानन माल्या ने उन सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को विशेष रूप से बधाई दी है, जिन्होंने इन खंडों में सभी आवश्यक पहलुओं को पूरा करने में अपना पूरा प्रयास किया है।