special train. : किस अफवाह से प्रवासी पहुंचेे थे बान्द्रा-सूरत स्टेशन

-भारतीय रेलवे ने ट्वीट किया, अफवाहों पर ध्यान न दे
-कोई स्पेशल ट्रेनें (special train.) नहं चलाई जा रही
-श्याम मारू-
बीकानेर।
भारतीय रेलवे कोई स्पेशल रेलगाड़ियां (special train.) नहीं चलाएगा। कोविड 19 संकट से बचाव के लिए प्रधानमंत्री की ओर से आगामी 3 मई तक लाॅक डाउन बढ़ाने की घोषणा की गई। इसके कुछ देर बाद ही भारतीय रेलवे ने भी 3 मई की मध्यरात्रि 00.00 बजे तक कोई भी रेलगाड़ी नहीं चलाने की सूचना जारी कर दी। परन्तुं कुछ सोशियल मीडिया पर यह संदेश वायरल हो गया कि प्रवासी लोगों के लिए मुम्बई और सूरत से स्पेशल ट्रेन (special train.)चलाई जा रही है। इस सूचना के बाद मुम्बई के बान्द्रा रेलवे स्टेशन और गुजरात के सूरत रेलवे पर प्रवासी लोगों भी भीड़ उमड़ पड़ी। इनमें अधिकांश लोग राजस्थान से थे। भीड़ को हटाने के लिए बान्द्रा और सूरत दोनों स्थानों पर पुलिस को अपनी ताकत का इस्तेमाल करना पड़ा। पुलिस ने सभी को खदेड़कर घर भेज दिया।

लेकिन यह संदेश कैसे फैला। इस बारे में मुम्बई प्रवासी सीताराम फूलभाटी ने मोबाइल फोन पर बताया कि लाॅक डान के कारण भारी संख्या में मजदूर-श्रमिक मुम्बई में फंसे हुए हैं। पूरे देश में सबसे पावरफुल हाॅटस्पाॅट है। इसलिए काफी सख्ती है। मजदूरो-श्रमिको के पास पैसे खत्म हो गए हैं। कल सुबह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 3 मई तक लाॅक डाउन बढ़ाने की घोषणा की। इसके थोड़ी देर बाद स्पेशल रेलगाड़ियों के संचालन (special train.)का संदेश सोशियल मीडिया में वायरल हो गया। इमें बान्द्रा से सूरत, अहमदाबाद, आबूरोड, जोधपुर होते हुए बीकानेर तक स्पेशल ट्रेन चलने की सूचना थी। लोग आननफानन में बान्द्रा स्टेशन पर एकत्रित हो गए। हर कोई अप ने घर जाना चाहता है। उन्होंने बताया कि बान्द्रा रेलवे स्टेशन पहुंचने पर पता चला कि रेलवे कोई स्पेशल ट्रेनें नहीं चला रहा। पर लोगों का विश्वास नहीं हो रहा था। लेकिन जैसे ही रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स यानी आरपीएफ के जवानों ने डंडे बरसाने शुरू किए तो लोग वहां से रवाना हुए। सूरत में भी राजस्थान के काफी लोग फंसे हुए हैं। बान्द्रा से विशेष गाड़ियां चलाई जा रही है जो सूरत होते हुए जोधपुर-बीकानेर जाएगी। इस मैसेज के वायरल होते ही भारी संख्या में बीकानेर, जोधपुर, चूरू, सरदारषहर, रतनगढ, नागौर आदि स्थानों के प्रवासी राजस्थानी सूरत रेलवे स्टेशन पहुंच गए और उन्हें भी निराश लौटना पड़ा। बुधवार को रेलवे ने ट्वीट किया कि रेलवे की ओर से 3 मई तक कोई भी पैसेंजर ट्रेन या मेल-एक्सप्रेस गाड़ी नहीं चलाई जाएगी। स्पेशल ट्रेन (special train.) चलाने की रेलवे की कोई योजना नहीं हैं। रेलवे ने ऐसी अफवाहों से बचने की सलाह दी है।