special goods train: देशभर में रसद की आपूर्ति युद्ध स्तर पर

-श्याम मारू-
नई दिल्ली
। कोरोना वायरस के देखते हुए भारतीय रेलवे ने रसद सामग्री देश भर में पहुंचाने के लिए विशेष मालगाड़ियों (special goods train) का संचालन शुरू कर दिया है। आगामी 14 अप्रेल तक सभी सवारी गाड़ियां बंद है। ट्रेक खाली हैं। ऐसे में रेलवे ने देश के हालात को देखते हुए सभी हिस्सों में जरूरी सामान की आपूर्ति तेज करने के लिए विशेष मालगाड़ियां (special goods train) चला रहा है। सिर्फ इतना ही नहीं रेलवे ने माल और पार्सल के लिए वारफेज और डेमारेज चार्ज भी आधा कर दिया है। इसके अलावा माल और कंटेनर से सम्बंिधत रियायती दरों की अवधि आगामी 30 अप्रेल तक बढ़ा दी है। आवश्यक सामान की ढुलाई करने के लिए चलाई गई विशेष मालगाड़ियों (special goods train)को बिना किसी अवरोध या बिना किसी बाधा के संचालित किया जासके, इस पर रेलवे नजर लगातार माॅनीटरिंग कर रहा है। रेलवे बोर्ड की विशेष टीम मालगाड़ियों के परिचालन पर लगातार नजर रख रही है। इसके लिए रेल भवन में इमरजेन्सी फ्रेट कन्ट्रोल रूम बनाया गया है, जो 24 घंटे कार्य कर रहा है। मालगाड़ियों के संचलन, लाइन स्टाफ, अनुरक्षण स्टाफ, सुरक्षा बल के जवाने तथा चिकित्साकर्मी चैबीस घंटे कार्य कर रहे हैं।

विशेष मालगाड़ी (special goods train) पर छूट

भारतीय रेलवे ने विशेष मालगाड़ियों पर छूट भी दी है। इसके खाली कंटेनर और खाली वैगन के हाउलेज पर अब कोई चार्ज नहीं लिया जाएगा। यह छूट 24 मार्च से 30 अप्रेल 2020 तक जारी रहेगी। साथ ही मालगाड़ियों के वैगनों में माल की लोडिंग व अन लोडिंग के साथ-साथ रेल परिसर से कन्साइनमेंट हटाने का फ्री समय भी दो गुना कर दिया है। भारतीय रेलवे इन दिनों केवल जरूरी सामान की आपूर्ति पर ही ज्यादा ध्यान दे रहा है। बुधवार को 474 रैक में नमक, तेल, खाद्यान्न, दूध, चीनी, फल, सब्जी, प्याज, कोयला आदि सामान की ढुलाई की गई। साथ ही इन दो दिनों में भारतीय रेलवे लगभग 891 रैक में आवश्यकसामग्री की ढुलाई कर चुका है।;