shramik trains.: राजस्थान से चार श्रमिक ट्रेनों को चलाने की मांगी स्वीकृति

0
36

-बीकानेर मण्डल की दो ट्रेनें शामिल
-श्याम मारू-
बीकानेर।
श्रमिकों एवं प्रवासियों को घर भेजने के लिए रेलवे से चार श्रमिक एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेनों (shramik trains.)के संचालन की स्वीकृति मांगी गई है। इनमें दो बीकानेर मण्डल की श्रमिक ट्रेन शामिल है। राज्य सरकार की ओर से उत्तर पश्चिम रेलवे जोन के मुख्य यात्री परिवहन प्रबंधक तरूण जैन को पत्र भेजकर चारों ट्रेन की स्वीकृति जारी करने का आग्रह किया गया है। इन रेलगाड़ियों (shramik trains.) के चलने से लगभग साढ़े 6129 लोगों को राहत मिलेगी। इसके अलावा बीकानेर से बिहार के लिए एक और चलाने की सम्भावना है। जिला प्रशासन ने तो बिहार की इस दूसरी ट्रेन (shramik trains.) के लिए तैयारियां कर ली है लेकिन अभी तक इस बारे में रेलवे ने कोई प्रतिक्रिया व्यक्त नहीं की है।

इन श्रमिक ट्रेनों (shramik trains.) की मांगी स्वीकृति

सीपीटीएम तरूण जैन को भेजे गए पत्र में 24 मई को शाम 17.00 बजे भीलवाड़ा से गया वाया सिवान, सहारण के लिए और 24 मई को ही रात 20.00 बजे श्रीगंगानगर से पूर्णिया के लिए ट्रेन चलाने का आग्रह किया हैै। इनके अलावा 25 मई को शाम 17.00 बजे हनुमानगढ़ से पूर्णिया वाया पटना, दरभंगा के लिए और 25 मई को ही शाम 16.00 बजे सीकर से बेगुसराय वाया सिवान, मुजर्फरपुर,समस्तीपुर के लिए ट्रेन चलाने के लिए स्वीकृति मांगी है। इनमें श्रीगंगानगर व हनुमानगढ़ से चलने वाली ट्रेनों कासंचालन बीकानेर मण्डल करेगा। इन ट्रेनों के चलने से 6129 लोग अपने घर पहुंच सकेंगे। इनमें भीलवाड़ा, श्रीगंगानगर व सीकर से 1550-1550 तथा हनुमानगढ़ से 1479 यात्री रवाना होंगे।
बीकानेर से भी रवाना हो सकती है एक ट्रेन
बीकानेर से बिहार के लिए दूसरी श्रमिक एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन सोमवार यानी 25 मई को रवाना हो सकती है।त्र। इससे पहले बिहार के लिए एक श्रमिक ट्रेन पिछले बुधवार को बिहार के गया स्टेशन भेजी गई थी। इसके साथ ही बीकानेर से श्रमिकों और प्रवासियों को लेकर जाने वाली श्रमिक एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन की संख्या 4 हो जाएगी। उत्तर प्रदेश के देवरिया सदर और गाजीपुर भी श्रमिक एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेप भेजी जा चुकी है। बिहार के लिए रवाना होने वाली दूसरी ट्रेन में झारखण्ड के श्रमिकों को भी भेजा जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here