shopping on wheels: चलती ट्रेन में शाॅपिंग करने का मजा

0
9

कर्णावती एक्सप्रेस व डबल डेकर में मिलेगी सुविधा
अहमदाबाद।
भारतीय रेलवे (indian railway) अब चलती ट्रेन में हर सामान उपलब्ध करवाएंगा। सफर के दौरान यात्री अब ट्रेन में शाॅपिंग का आनंद उठा सकेगे। रेलवे ने पायलट प्रोजेक्ट के तहत पिछले 8 अगस्त से दो रेलगाड़ियों में शाॅपिंग ऑन व्हील्स (shopping on wheels) सेवा शुरू की है। शाॅपिंग ऑन व्हील्स (shopping on wheels) में यात्री को आवश्यकता का सामान उसकी सीट पर ही मिलेगा। इससे यात्रियों को अपनी जरूरतें पूरी करने में मदद मिलेगी। फिलहाल पश्चिमी रेलवे ने शाॅपिंग ऑन व्हील्स सेवा सिर्फ दो रेलगाड़ियों में शुरू की है। इसका रिस्पाॅंस देखा जा रहा है। यात्रियों ने इसमे ज्यादा रूचि दिखाई तो आगामी दिनों में 12 अन्य रेलगाड़ियों में भी शाॅपिंग ऑन व्हील्स (shopping on wheels) शुरू की जा सकती है।

ऐसे मिलेगा सामान

शाॅपिंग ऑन व्हील्स योजना बनाते समय रेलवे ने इसके संचालन पर भी खासा ध्यान दिया है। इस सुविधा के तहत रनिंग ट्रेन में रेलवे का वेंडर एक ट्रॉली में काफी काम का सामान ले कर कोच में घुमेगा। इस ट्राॅली में रखे सामान की यात्रियों को जानकारी देगा । यात्री अगर जरूरत महसूस करते हैं और उन्हें सामान पसंद आता है तो वो अपनी सीट पर बैठे-बैठे ही शॉपिंग कर सकते हैं।

ये मिलेगा सामान

शाॅपिंग ऑन व्हील्स में एफएमसीजी की वस्तुएं ही उपलब्ध रहेंगी। रोजमर्रा के उपभोग की वस्तुएं खरीदकर यात्री अपनी जरूरत को पूरा कर सकते हैं। इसमे टूथपेस्ट, टूथब्रश, साबुन, तेल, कंघी, डियो, सौंदर्य प्रसाधन की सामग्री, त्वचा की देखभाल का सामान मिलेगा। साथ ही कॉस्मैटिक्स, स्टेशनरी, स्किन केयर, हेयर केयर, सेहत से जुड़े उत्पाद, खाने पीने और मिठाई आदि भी यात्री अपनी सीट पर बैठे हुए खरीद सकेंगे। यात्रियों को अधिकतम खुदरा मूल्य (एमआरपी) पर सामान बेचा जाएगा। यात्री इन सामानों को खरीदने के लिए कैश के अलावा क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, गूगल पे और पेटिंग के जरिए भी पेमेंट कर सकेंगे। ऑनलाइन पेमेंट के लिए भी ट्रेन में मौजूद वेंडर के पास स्वैप मशीन होगी।

इन रेलगाड़ियों में shopping on wheels

शाॅपिंग ऑन व्हील्स योजना पश्चिमी रेलवे के अहमदाबाद डिविजन में शुरू की गई है। यह सुविधा अहमदाबाद -मुंबई सेंट्रल-अहमदाबाद कर्णावती एक्सप्रेस और अहमदाबाद-मुंबई सेंट्रल-अहमदाबाद डबल डेकर एक्सप्रेस में मिलेगी। इन ट्रेनों में योजना सफल होने के बाद पश्चिमी रेलवे 12 अन्य रेलगाड़ियों में भी इसे आरम्भ करेगा। इसके बाद भारतीय रेलवे के अन्य जोन में भी शुरू किया जा सकता है। रेलवे का कहना है कि यात्रा के दौरान दोनों दिशाओं में यह सुविधा मिलेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here