sarbat da bhala express: सिखों की भावना का खयाल

0
24


-रेल मंत्री पीयूष गोयल ने सरबत दा भला एक्सप्रेस ट्रेन को हरी झंडी दिखाई
-श्याम मारू-
नई दिल्ली। नई दिल्ली से लोहियां खास जाने वालीे ट्रेन का नामकरण सरबत दा भला एक्सप्रेस (sarbat da bhala express) किया गया है। सरबत दा भला या सभी का कल्याण गुरु नानक देव की शिक्षा का मूल है, इसीलिए ट्रेन का यह नामकरण किया गया। गुरु नानक देव के 550वें प्रकाश पर्व के अवसर पर ट्रेन का नया नामकरण ‘सरबत दा भला एक्सप्रेस ’ (sarbat da bhala express) करने का अनुरोध केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने किया था। बादल ने ट्रेन का नाम बदलने के प्रस्ताव को स्वीकार करने के लिए गोयल को धन्यवाद दिया और कहा कि पंजाब के लोगों के लिए यह भावनाओं ने जुड़ा हुआ मुद्दा है।

इंटरसिटी अब कहलाएगी sarbat da bhala express

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने पिछले शुक्रवार को यहां नई दिल्ली से लोहियां खास जाने वाली सरबत दा भला एक्सप्रेस ट्रेन को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से हरी झंडी दिखा कर रवाना किया था। पहले नई दिल्ली-लुधियाना इंटरसिटी के नाम से जानी जाने वाली सरबत दा भला एक्सप्रेस ट्रेन अब पवित्र शहर सुल्तानपुर लोधी होते हुए जालंधर में लोहियां खास तक जाएगी। समारोह में केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन और हरसिमरत कौर बादल मौजूद थे। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि पहले वंदे भारत ट्रेन की शुरुआत की गई जो श्रद्धालुओं को माता वैष्णो देवी तक लेकर जाएगी और आज यह ट्रेन तीर्थयात्रियों को सुल्तानपुर लोधी तक पहुंचाएगी। उन्होंने कहा कि रेलवे द्वारा तीर्थों से जोडने से अधिक पवित्र कार्य और कुछ नहीं हो सकता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here