rpf : जुलाई में 27 महिलाओं व बच्चों को परिजनों तक पहुंचाया

0
18

-रेलवे सुरक्षा बल (rpf) का जुलाई में यात्री सुरक्षा का उत्कृष्ट कार्य
-रामदेव यू-
(Bureau Chief)
जयपुर। उत्तर पश्चिम रेलवे प्रशासन जोन में रेल सुरक्षा बल आरपीएफ (rpf) की ओर से रेल सम्पत्ति एवं यात्रियों की सुरक्षा का विशेष अभियान चलाया जा रहा है। आरपीएफ ने जुलाई में 27 महिलाओं व बच्चों को परिजनों तक पहुचाया गया। 30 बच्चों व महिलाओं को एनजीओं को सौपा गया। जुलाई माह में कुल 58 लावारिस बच्चों व महिलाओं को उनके परिजनो या एनजीओ को सःकुशल सुपुर्द किया गया है। उत्तर पश्चिम रेलवे के मुख्य जन संपर्क अधिकारी अभय शर्मा के अनुसार उत्तर पश्चिम रेलवे जोन में रेल सुरक्षा बल (rpf) द्वारा रेलवे परिसर में विशेष अभियान चलाकर रेल सम्पत्ति, रेल यात्रियों एवं रेलकर्मियों की सुरक्षा के विशेष प्रबन्ध किये गये है।

rpf यात्री बूथ

इसके साथ ही रेल सुरक्षा बल द्वारा यात्री मित्र बूथ का संचालन भी किया जा रहा है, जो जरूरतमंद यात्रियों को वांछित जानकारी उपलब्ध करा रहा है। जुलाई के दौरान 6192 यात्रियों ने यात्री मित्र बूथ से सूचना प्राप्त की, 03 यात्रियों को व्हील चेयर की सुविधा एवं 06 बीमार यात्रियों को चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करवाई गई। रेल अधिनियम के तहत् रेलवे सुरक्षा बल द्वारा जुलाई माह के दौरान अभियान चलाकर रेल सम्पति अधिनियम के तहत कुल 09 मामलों में 13 बाहरी व्यक्तियों व 01 रेलकर्मी को गिरफ्तार कर रेलवे अधिनियन की विभिन्न धाराआंे के अन्तर्गत मामले दर्ज किये गये है तथा कुल 75,238 रूपए की राशि जुर्माना के रूप में वसूल की गई। इसके साथ ही रेल अधिनियम के तहत अभियान चलाकर कुल 4184 व्यक्तियों को विभिन्न धाराओं के अन्तर्गत मामले दर्ज कर अभियोजित किया गया, जिनसे 5,64,815 रूपए जुर्माना राशि वसूल की गई। रेलवे स्टेशनों एवं रेल सम्पत्ति की सुरक्षा के लिये रेल सुरक्षा बल द्वारा निरन्तर विशेष अभियान चलाये जा रहे है। जिसमें रेलवे परिक्षेत्र में होने वाली गैर-कानूनी घटनाओं में निरन्तर कमी आ रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here