बच्चों व महिलाओं की सुरक्षा में रेलवे कृत संकल्प

0
26
RPF-logo

जयपुर। उत्तर पश्चिम रेलवे (nwr) प्रशासन की ओर से रेल सम्पत्ति एवं रेल यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुये विशेष अभियान चलाए जा रहे है। जिसमें अप्रेल माह में कुल 36 लावारिस बच्चों व महिलाओं को उनके परिजनों एवं एनजीओ को सुपुर्द किया गया है। उत्तर पश्चिम रेलवे (nwr) के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी अभय शर्मा के अनुसार उत्तर पश्चिम रेलवे पर रेल सुरक्षा बल (rpf) द्वारा रेलवे स्टेशनों एवं रेलवे कॉलोनियों में विशेष अभियान चलाकर रेल सम्पत्ति, रेल यात्रियों एवं रेल कर्मचारियों की सुरक्षा के विशेष प्रबन्ध किए गए है। साथ ही रेल सुरक्षा बल
(rpf) यात्री मित्र बूथ का संचालन भी कर रहा है, जो जरूरतमंद यात्रियों की वांछित जानकारी भी उपलब्ध करा रहा है। अप्रेल माह के दौरान 9661 यात्रियों ने यात्री मित्र बूथ से सूचना प्राप्त की, 04 यात्रियों को व्हील चेयर की सुविधा, 04 बीमार यात्रियों को चिकित्सा सुविधा दिलवाई। शर्मा ने बताया कि उत्तर पश्चिम रेलवे का रेल सुरक्षा बल अपने सामाजिक सरोकार को भी बखूबी निभा रहा है।

ढाई हजार से अधिक लोगों को पकड़ा

रेल अधिनियम के तहत उत्तर पश्चिम रेलवे के रेल सुरक्षा बल की ओर से अप्रेल के दौरान अभियान चलाकर रेल सम्पति अधिनियम के तहत कुल 02 मामलों में 03 व्यक्तियों को गिरफ्तार कर रेलवे अधिनियम की विभिन्न धाराओं के अन्तर्गत मामले दर्ज किये गये है तथा कुल 7000 रुपए की राशि जुर्माना के रूप में वसूल की गई। इसके साथ ही रेल अधिनियम के तहत अभियान चलाकर कुल 2597 व्यक्तियों को विभिन्न धाराओं के अन्तर्गत मामले दर्ज कर अभियोजित किया गया, जिनसे 3,43,175 रुपए जुर्माना राशि वसूल की गई। रेलवे स्टेशनों एवं रेल सम्पत्ति की सुरक्षा के लिये रेल सुरक्षा बल द्वारा निरन्तर विशेष अभियान चलाये जा रहे है। जिसमें रेलवे परिक्षेत्र में होने वाली गैर-कानूनी घटनाओं में निरन्तर कमी आ रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here