रेलवे स्टेशनों पर अवैध वेंडरों के खिलाफ आरपीएफ की मुहिम

प्रयागराज। रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ rpf) ने रेलवे स्टेशनों पर बिना अनुमति अवैध रूप से खाने-पीने और अन्य सामान बेचने वालों के खिलाफ नकेल डालने की तैयारी कर ली है। आरपीएफ (rpf) अवैध वेंडिंग को हतोत्साहित करने के लिए अवैध वेंडरों पर सतत नजर रखने की योजना बनाई है। रेलवे बोर्ड ऐसे वेंडरों पर जुर्माने की राशि बढ़ाने पर भी विचार कर रहा है। उत्तर मध्य रेलवे के महानिरीक्षक (आरपीएफ rpf) एस.एन. पांडेय ने बताया कि अवैध वेंडरों के खिलाफ आरपीएफ सतत कार्रवाई कर रहा है और रेलवे बोर्ड के पास ऐसे वेंडरों के खिलाफ जुर्माने की राशि बढ़ाने का प्रस्ताव विचाराधीन है। आरपीएफ (rpf) अवैध वेंडरों को लेकर अब अपेक्षाकृत ज्यादा गम्भीर हो गया है। इससे स्टेशन पर शुद्ध सामान मिलेगा।

35 वेंडरों से जुर्माना वसूला, दो को सजा

पिछले शनिवार को इलाहाबाद रेलवे जंक्शन पर 40 अवैध वेंडरों की धरपकड़ की कार्रवाई के बारे में पांडेय ने बताया कि 35 लोगों ने अपना जुर्म कबूल लिया है जिसमें से 33 लोगों ने 1500-1500 रुपए जुर्माना भरा है। वहीं दो लोगों को दो दिन की कारावास की सजा हुई। उन्होंने बताया कि नीलम फूड प्लाजा में कार्यरत पांच लोगों ने आरपीएफ की कारवाई को अदालत में चुनौती दी है। हालांकि कारवाई के समय इन लोगों के पास कोई दस्तावेज नहीं थे। उल्लेखनीय है कि आरपीएफ की अपराध शाखा की एक टीम ने शनिवार की रात इलाहाबाद जंक्शन पर छापेमारी कर 40 अवैध वेंडरों को पकड़ा था। चार निरीक्षकों के नेतृत्व में 40 जवानों की टीम ने जंक्शन के सभी प्लेटफार्मों पर छापेमारी अभियान चलाया। पांडेय ने बताया कि गुरूवार को आरपीएफ ने मिर्जापुर रेलवे स्टेशन पर अवैध वेंडरों के खिलाफ अभियान के तहत 26 लोगों को पकड़ा। हालांकि इन सभी के पास आवश्यक अधिकार पत्र मौजूद थे जिसके बाद इन्हें छोड़ दिया गया।