bags on wheels service :यात्रा में लगेज ढोने की टेंशन अब रेलवे की

-बीकानेर में भी शुरू होगी बैग्स ऑन  व्हील्स सेवा (bags on wheels service) 
बीकानेर। दिल्ली के बाद देश के अन्य हिस्सों में भी रेलवे बैग्स ऑन  व्हील्स सेवा (bags on wheels service)  शुरू कर रहा है। यात्रियों के घरों से लगेज लाने-ले जाने के लिए रेलवे ने बैग्स ऑन  व्हील्स सेवा (bags on wheels service)  गत 23 अक्टूबर को दिल्ली में लांच की थी। दिल्ली के बाद हावड़ा, सूरत, अहमदाबाद, बान्द्रा, कोटा, उदयपुर, हुबली, जयपुर, जोधपुर, बीकानेर और अजमेर स्टेशनों पर भी यह सेवा उपलब्ध होगी। बैग्स ऑन  व्हील्स सेवा (bags on wheels service)  उत्तर पश्चिम रेलवे जोन के जयपुर व बीकानेर में अगले साल अपे्रल में आरम्भ होगी।

ये है बैग्स ऑन  व्हील्स सेवा (bags on wheels service) 

अब रेलवे यात्रियों के लिए लगेज को ढोने की टेंशन को खत्म करने जा रहा है। रेलवे ‘बैग्‍स ऑन व्हील्स’ योजना के माध्यम के माध्यम से यात्रियों की स्टेशन तक सामान ले जाने की टेंशन खत्म हो जाएगी। इस नई सुविधा के लागू हो जाने के बाद रेलवे यात्रियों के सामान को घर से स्टेशन तक पहुंचाएगा। इससे यात्रियों को अपनी सीट तक सामान ले जाने की दिक्कत से निजात मिल जाएगी। यह स्कीम गैर-किराया-राजस्व अर्जन योजना (एनआईएनएफआरआईएस) के अंतर्गत एप आधारित बैग्स ऑन व्हील्स सेवा की शुरुआत की जाएगी। रेलवे ने पहले इस सेवा की शुरुआत नई दिल्ली रेलवे स्टेशन, दिल्ली जंक्शन, हजरत निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन, दिल्ली छावनी रेलवे स्टेशन, दिल्ली सराय रोहिल्ला रेलवे स्टेशन, गाजियाबाद रेलवे स्टेशन और गुरुग्राम रेलवे स्टेशनों पर की थी। अब उत्तर पश्चिम रेलवे के जयपुर, जोधपुर, बीकानेर और अजमेर स्टेशनों पर भी यह सेवा उपलब्ध होगी। इसके अलावा हावड़ा, हुबली, बान्द्रा, कोटा, उदयपुर, सुरत, अहमदाबाद समेत अनेक स्टेशनों पर भी इसकी शुरुआत होगी। इन सभी स्टेशनों पर यह सेवा सम्भवतया अगले साल अप्रेल मे शुरू होगी। इसके तहत एप में दी गई जानकारी के आधार पर रेलवे यात्री के घर से उसका सामान लेकर ट्रेन में उसके कोच तक पहुंचाएगां। रेल संदेश डाॅट काॅम को मिली जानकारी के अनुसार यात्रियों को रेलवे के बीओडब्ल्यू एप (APP) पर बुकिंग करनी होगी और मांगी गई जानकारी देनी होगी। इसमें दी गई जानकारी के आधार पर यात्री का सामान स्टेशन से घर या घर से स्टेशन / कोच तक पहुंचाया जाएगा। ट्रेन के स्टेशन से प्रस्थान करने से पहले सीट तक आपके सामान को पहुंचाने की जिम्मेदारी रेलवे की होगी। बेहद कम शुल्क में यात्री इस सुविधा का लाभ उठा सकेंगे। इस सुविधा के लागू हो जाने के बाद वरिष्ठ नागरिकों, दिव्यांग जनों और अकेले यात्रा कर रही महिला यात्रियों के लिए यात्रा काफी आसान और लाभदायक हो जाएगी। इसके लिए सम्बंधित सेवा प्रदाता को अपने कर्मचारी नियुक्त करने होंगे और यात्रियों को शुल्क देना होगा।