railway in budget : 1000 प्राइवेट ट्रेन चलाई जाएगी

0
29

– बजट में रेलवे (railway in budget) के लिए 1,10,055 करोड़ रुपए का प्रावधान
-रेल संदेश ब्यूरो-
नई दिल्ली। वित्तर मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को पेश बजट (railway in budget)  में 1000 रेलगाड़ियों को पीपीपी मोड पर चलाने की घोषणा की है। पिछले वर्ष 150 ट्रेन निजी हिस्सेदारी में चलाने की घोषणा की गई थी। रेलवे अब निजीकरण की तरफ बढ़ रहा है। रेल बजट में (railway in budget) 4 रेलवे स्टेशनों को भी प्राइवेट प्लेयर्स की मदद से संचालित करने की बात कही गई है। प्राइवेट क्षेत्र की तेजस एक्सप्रेस को मिले रिस्पांस को देखते हुए तेजस एक्सप्रेस की संख्या बढ़ाई जाएगी। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ( ) ने वित्त वर्ष 2021-22 का बजट पेश किया है। यह मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का तीसरा बजट है। कोरोना महामारी और उसके बाद आर्थिक संकट के कारण यह बजट बहुत महत्वपूर्ण हो गया है. बजट में भारतीय रेलवे (railway in budget) के लिए भी ऐलान किए गए हैं। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट 2021 में भारतीय रेलवे के लिए 1.1 लाख करोड़ रुपये की घोषणा की हैै। रेलवे के लिए 1,10,055 करोड़ की रिकॉर्ड राशि का प्रावधान किया गया है। इसमें से 1,07,100 करोड़ रुपये केवल कैपिटल एक्सपेंडिचर के लिए हैं। सीतारमण ने बजट में एलान किया कि टीयर दो शहरों और टीयर एक शहरों के बाहरी इलाकों में मेट्रो रेल सिस्टम उपलब्ध कराने के लिए मेट्रो लाइट और मेट्रो न्यू टेक्नोलॉजी को कम कीमत पर लगाया जाएगा, जिसमें समान अनुभव, सहूलियत और सुरक्षा मिलेगी. वित्त मंत्री ने कहा कि भारतीय रेलवे के उच्च घनत्व नेटवर्क और ज्यादा उपयोग किये गए नेटवर्क रूटों को देश में विकसित स्वचालित ट्रेन संरक्षण प्रणाली उपलब्ध कराई जाएगी, जिससे मानवीय गलती की वजह से होने वाले ट्रेन की टक्कर कम खत्म होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here