रेल मंत्री पीयूष गोयल आज लेंगे अधिकारियों की क्लास

0
19

नई दिल्ली। रेल मंत्री पीयूष गोयल गुरूवार दोपहर बाद रेलवेे वरिष्ठ अधिकारियों की एक मैराथन बैठक करेंगे। इस बैठक में भारतीय रेलवे के भविष्य का खाका तैयार किया जाएगा। आगामी लोकसभा चुनावों के मद्देनजर आदर्श आचार संहिता लागू होने से कुछ दिनों पहले रेल मंत्री पीयूष गोयल पिछले पांच साल में रेल मंत्रालय की ओर से किए गए काम का अंतिम आकलन करेंगे। गुरूवार सुबह विश्वस्त स़ूत्रों ने यह जानकारी दी। इस बैठक में रेल मंत्री रेलवे बोर्ड के सभी सदस्यों, महानिदेशकों (डायरेक्टर जनरल), महाप्रबंधकों ( जनरल मैनेजर), मंडल रेल प्रबंधकों (डीआरएम), रेल मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों (पीएसयू) के प्रमुखों और भविष्य में डीआरएम के तौर पर कामकाज संभालने वाले वरिष्ठ अधिकारियों से मुखातिब होंगे। सूत्रों ने बताया कि बैठक में वर्ष 2018-19 के लक्ष्यों को हासिल किए जाने की स्थिति, देश के सुरक्षा हालात, किए गए सुरक्षा उपायों और 2019-20 के लिए एजेंडा तय करने पर जोर होगा।

उपलब्धियां साथ लेकर आएं

बैठक में सभी विभागों के प्रमुखों से पिछले पांच साल में की गई उपलब्धियों को साथ लेकर आने को कहा गया है। देश भर के मण्डल रेल प्रबंधक अपने-अपने मण्डलों की रिपोर्ट सौंपेंगे। व ेअब तक की गई कार्रवाइयों सें रेल मंत्री को अवगत करवाएंगे । साथ ही इस बैठक में मण्डल रेल प्रबंधक अपने क्षेत्र की जनता की विभिन्न मांगों से भी अवगत करवाएंगे। इसके अलावा जोन महाप्रबंधक जोन स्तर पर अपनी बातें रखेंगे। नवीनतम गठित दक्षिण तटीय रेलवे जोन विशाखापट्टणम के बारे में फिलहाल कोई चर्चा नहीं की जाएगी। क्योंकि अभी तक इसने पूरी तरह काम आरम्भ ही नहीं किया है।

यात्री सुविधा पर रहेगा जोर

इस बैठक में सबसे प्रमुख यात्री सुविधाओं पर चर्चा करना होगा। क्योंकि सभी मुद्देे चुनाव से जुड़ें हैं। इसी कड़ी में वन्दे भारत एक्सप्रेस के बारे में भी चर्चा की जाएगी। इसी तरह की अन्य ट्रेनों को लांच करने और माॅडर्न कोच फैक्ट्री रायबरेली में इस ट्रेन के कोच का निर्माण करेन पर बात की जाएगी। इस बैठक के लम्बी चलने की उम्मीद है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here