one rail one helpline : 1 अप्रेल 2021 से एक रेल एक हेल्पलाइन नम्बर

– एक रेल एक हेल्पलाइन (one rail one helpline) में सिर्फ एक नम्बर 139
-रेल संदेश डेस्क-
कोलकाता। भारतीय रेलवे के मिशन एक रेल एक हेल्पलाइन नम्बर (one rail one helpline) अभियान के तहत कई पूछताछ और शिकायत नम्बरों को आपस में मर्ज किया जा रहा है। इसी कड़ी में रेलवे के हेल्पलाइन नम्बर 138 और 182 को भी 139 नंबर मर्ज कर दिया गया है और एक रेल एक हेल्पलाइन नम्बर (one rail one helpline) अभियान को पूरा करने के लिए एक और कदम बढ़ाया गया है। मिशन एक रेल एक हेल्पलाइन नम्बर के पूरा होने के बाद यात्रियों को आरपीएफ, पूछताछ और शिकायतों के लिए अलग अलग नम्बर नहीं डायल करने होंगे। रेलवे हेल्पलाइन नंबर 138 और सुरक्षा हेल्पलाइन नंबर 182 को रेल मदद हेल्प लाइन 139 में 1, अप्रैल 2021 से मर्ज कर दिया जाएगा ताकि रेल उपयोगकर्ताओं की विभिन्न प्रश्नों और समस्याओं को सहायता प्रदान की जा सके। आगामी एक अप्रेल.2021 के बाद रेल उपयोगकर्ताओं को एक सिंगल नंबर 139 डायल करना होगा जिसपर सुरक्षा, चिकित्सा सहायता, दुर्घटना सूचना, ट्रेन शिकायत, स्टेशन शिकायत, सतर्कता सूचना, माल ढुलाई, पार्सल जांच, सामान्य पूछताछ आदि से संबंधित विभिन्न प्रकार की बातें की जा सकेंगी। रेल मदद हेल्प लाइन 139 पर प्राप्त सभी चिकित्सा और सुरक्षा आपातकालीन कॉल को हस्तक्षेप के लिए विभिन्न विभागों को तत्काल हस्तांतरित किए जाएंगे। आगामी एक अप्रेल 2021 से, केवल रेल मदद हेल्प लाइन नम्बर 139, रेल मदद वेबसाइट और रेल मदद एप सभी जोनल रेलवे के सभी संचार में उपलब्ध होगा। इससे पहले, रेल उपयोगकर्ताओं को विभिन्न प्रकार के प्रश्नों और समस्याओं के समाधान के लिए अलग-अलग नम्बर डायल करने पड़ते थे।