मथुरा रेलवे स्टेशन को उड़ाने की फिर धमकी

mathura-railway-station

मथुरा,। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में रेलवे स्टेशन(railway station) को बम धमाके से उड़ा देने की धमकी भरा पत्र मिलने के बाद राज्य सरकार ने मथुरा के श्रीकृष्ण जन्मस्थान परिसर सहित ऐसे अन्य सभी अतिसंवेदनशील धर्मस्थलों की सुरक्षा व्यवस्था और भी ज्यादा चाक-चौबंद कर दी है। मथुरा के श्रीकृष्ण जन्मस्थान, बांकेबिहारी मंदिर सहित रेलवे स्टेशन(railway station) एवं मथुरा के तेलशोधक कारखाने की निगहबानी पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। सभी सार्वजनिक स्थलों एवं आश्रम, गेस्ट हाउस, धर्मशालाओं में ठहरने वाले आगंतुकों की पहचान की जांच की जा रही है। रेलवे स्टेशन को उड़ाने की धमकी लगातार मिल रही है।

सघन तलाशी अभियान

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज ने बताया, गत सप्ताह एक धमकी भरा पत्र पश्चिमी उत्तर प्रदेश के रेलवे स्टेशन को उड़ाने के संबंध में मिला था। इसके बाद पूरे रेलवे स्टेशन की जांच की गई। पूरा तलाशी अभियानन चलाया गया। गुजरने वाली रेलगाड़ियों को भी जांचा जा रहा है। इसके अलावा स्टेशन से रवाना होने वाले यात्रियों के लगेज की जांच की जा रही है। रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स आरपीएफ अपना काम कर रही है। उक्त पत्र में संभवतः उत्तर प्रदेश के भी कुछ धार्मिक शहरों में अशांति फैलाने जैसी भाषा इस्तेमाल की गई थी। जिसके कारण पूरे प्रदेश में अलर्ट जारी किया गया था। इसलिए इन दिनों किसी भी प्रकार की अप्रिय स्थिति को टालने के इरादे से यह कवायद की जा रही है। उन्होंने बताया, जिले में खुफिया एजेंसियों को भी पूरी तरह से सतर्क रहने के निर्देश दिए गए हैं तथा हर प्रकार की संदिग्ध गतिविधि पर नजर रखी जा रही है। देश के प्रसिद्ध तीर्थस्थलों में से एक होने के कारण मथुरा स्टेशन पर प्रतिदिन हजारों की संख्या में श्रद्धालू यहां आते हैं। इसलिए उनकी भी सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए लगातार चेकिंग की जा रही है।