fill vacancy : रेलवे बोर्ड का आदेश, शीघ्र करों भर्तियां

fill-vacancy-in-electrification

रेलवे की योजनाएं हो रही प्रभावित
-जोनल महाप्रबंधक भरेंगे वैकेन्सियां (fill vacancy)
-श्याम मारू-
बीकानेर।
देश भर में चल रहे रेलवे के विभिन्न विद्युत प्रोजेक्ट को तीव्र गति से पूरा करने के लिए रेलवे भारी संख्या में भर्तियां (fill vacancy)करेगा। रेलवे बोर्ड(railway board) ने सभी जोन मुख्यालयों को पत्र भेजकर केन्द्रीय विद्युतिकरण संगठन कोर की ओर क्रियान्वित की जा रही विद्युतीकरण परियोजनाओं में शीघ्र रिक्तियां भरने (fill vacancy)को कहा है। क्योंकि संगठन के प्रमुख ने परियोजना में पर्यवेक्षकों की भारी कमी बताई है, जिससे विद्युतीकरण कार्यों की प्रगति कार्य काफी प्रभावित हो रहा है। सभी जोनल रेलवे को भेजे गए एक पत्र में, रेलवे बोर्ड ने उन्हें पिछले आदेश का पालन करने के लिए कहा है ताकि विद्युतीकरण परियोजनाओं में पर्याप्त कर्मचारी सुनिश्चित किए जा सकें। पूर्व रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने वर्ष 2016 में 24,400 रूट किलोमीटर की पहचान करके मौजूदा ब्रॉड गेज पटरियों के 90 प्रतिशत विद्युतीकरण की योजना की घोषणा की थी, लेकिन वर्तमान रेल मंत्री पीयूष गोयल ने पूरे रेल नेटवर्क के शतप्रतिशत विद्युतीकरण करने का आह्वान किया है। हाल ही में एक सार्वजनिक कार्यक्रम में रेल मंत्री पीयूष, गोयल ने कहा कि भारतीय रेलवे अगले साढ़े तीन वर्षों के भीतर 100 प्रतिशत विद्युतीकरण लक्ष्य हासिल कर लेगा।
रेलवे बोर्ड 8 सितंबर को जारी किए गए पत्र में अक्टूबर 2017 के एक आदेश का हवाला दिया गया था, जहां यह स्पष्ट रूप से कहा गया था कि कोर परियोजनाओं की रिक्तियों को भरना मुख्य रूप से क्षेत्रीय रेलवे की जिम्मेदारी होगी, जिसके क्षेत्रीय अधिकार क्षेत्र में विद्युतीकरण परियोजना शुरू की जा रही है। 2017 के आदेश के अनुसार, संबंधित महाप्रबंधकों और मंडल रेल प्रबंधकों को निर्माण परियोजनाओं के लिए एक समान तरीके से पर्याप्त संख्या में कर्मचारियों की पोस्टिंग सुनिश्चित करने के लिए रेलवे विद्युतीकरण परियोजना के संबंधित प्रमुखों के साथ समन्वय़ करना था। इस आदेश के बाद उत्तर पश्चिम रेलवे जोन के बीकानेर और जयपुर मण्डल में सबसे पहले भर्तियां की जा सकती हैं।