NMG coach : अब सौ से ज्यादा कारें जा सकेंगी नई मालगाड़ी में

0
9

-रेलवे तैयार करवा रहा है एनएमजी कोच (NMG coach)
-रेल संदेश ब्यूरो-
मुम्बई। चौपहिया वाहनों के लदान को सुगम और आसान बनाने के लिए रेलवे नए मोडिफाइड कोच (NMG coach) तैयार कर रहा है। इन मोडिफाइड कोच में कारों को आसानी से एक स्थान से दूसरे स्थान तक परिवहन किया जा सकेगा। इन्हें न्यू मोडिफाइड गुड्स कोच (NMG coach) और इसे ले जाने वाली मालगाड़ी को न्यू मोडिफाइड रैक नाम से पहचान मिली है। एक रैक में लगभग 22 से 24 एनएमजी कोच (NMG coach) होते हैं। एक कोच में पांच कार का लदान किया जा सकता है। इस प्रकार एक रैक में एक साथ 110 से 120 कार का लदान किया जा सकता है। साथ ही इसकी स्पीड भी 75 किलोमीटर प्रतिघंटा से बढ़कर 110 किमीप्रघं तक बढ़ाई जा सकेगी। न्यू मोडिफाइड गुड्स कोच का डिजाइन रेलवे के रिसर्च डिजाइन एण्ड स्टैण्डर्ड आर्गेनाइजेशन ने तैयार किया है और अब इसे बनाने का काम रेलवे की विभिन्न कार्यशालाओं में चल रहा है। इनमें मध्य रेलवे जोन का परेल वर्कशाॅप, उत्तर पश्चिम रेलवे जोन का अजमेर व जोधपुर वर्कशाॅप शामिल है। मध्य रेलवे परेल वर्कशॉप ने 45 दिनों के कम समय में ऑटोमोबाइल वाहनों को एनएमजी कोच तैयार कर लिया। ऑटोमोबाइल के आसान लोडिंग के लिए बेहतर फाल प्लेट के साथ विकसित इन कोच में वाहनों की उचित सुरक्षा के लिए चैनल्स चैन, पूरी तरह से वेल्डेड चेकर प्लेट फ्लोर, वेंटिलेशन के लिए लॉवर्स और प्राकृतिक रोशनी के लिए आवश्यक संशोधन किए हैं। इस मोडिफिकेशन से एनएमजीएव कोच की गति क्षमता को 75 से बढ़ाकर 110 किमी प्रति घंटा किया जा सकेगा।

NMG-coach-01

जोधपुर-अजमेर बन रहें एनएमजी कोच (NMG coach)

उत्तर पश्चिम रेलवे ने एनएमजी कोचेज का निर्माण जोधपुर और अजमेर वर्कशॉप में प्रारंभ कर दिया है। जोधपुर वर्कशॉप में पहला एनएमजी कोच तैयार हो गया है। जोधपुर रेलवे वर्कशॉप में 20 वर्ष या उससे अधिक आयुवर्ग के कोचों को ऑटोमोबाइल कॅरियर ले जाने के लिए एयर ब्रेक कोच में परिवर्तित किया जा रहा है। उत्तर पश्चिम रेलवे को रेलवे बोर्ड ने 100 कोच एनएमजी कोच में परिवर्तित करने का लक्ष्य दिया है। इसमें जोधपुर वर्कशॉप को 40 व अजमेर वर्कशॉप को 60 कोच आवंटित किए गए हैं। एनएमजी कोच की भार वहन क्षमता 9.2 टन है। इन कोच में एडजेस्टेबल सैन्ट्रल लॉकिंग का प्रावधान किया गया है, जिससे परिवहन के दौरान व्हीकल्स् के डेमैज होने की संभावना नहीं रहती है। एक कोच को न्यू मॉडिफाइड गुड्स (एनएमजी) में परिवर्तित करने का खर्च लगभग 10 लाख रुपए तक आता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here